Download Registration Form
Pay Now
/file/event/ba6de_Gir-Forest-National-Park-1.jpg
/file/event/956b9_ganga (1).jpg
/file/event/c760c_img_20170430_205149.jpg
/file/event/e04c8_Israel-to-open-excellence-centres-for-Indian-farmers.jpg
/file/event/c67ed_723356739.jpg
/file/event/86b9a_flag-hd-wallpapers-on-wallpaper-hd-indian-flag.jpg

नेशनल डिफेंस ट्रस्ट

भारत के पास ज्ञान, धन, बल, उदारता, साहस, पराक्रम, पुरुषार्थ, नीति, प्राकृतिक सम्पदा, दया, क्षमा , योग, अध्यात्म, ज्योतिष, अनेकता में एकता, निष्ठा, बारहों महीने बहने वाली नदियां, यहाँ का मौसम, स्वास्थ्य व आयुर्वेद का अकूत खजाना है तथा सम्पूर्ण विश्व का प्रतिनिधीत्व करने की क्षमता हैं, भारत की इन क्षमताओं को विश्व के देश एक बार नहीं बार बार आजमा चुके हैं। ...अधिक जाने

नेशनल डिफेंस

नेशनल डिफेंस भारत सरकार के सूक्ष्म, लघु और मध्यम उद्दम मंत्रालय द्वारा पंजीकृत संगठन है तथा इसकी पंजीकरण संख्या: UAN- UP75D0014196 है। यह नेशनल डिफेंस ट्रस्ट का सहयोगी संगठन है।  

हमारी पेशेवर सेवाएं- 
1) शिकायत एवं सहायता सेवाएं- इसके अंतर्गत किसी भी प्रकार की शिकायत अथवा सहायता से सम्बंधित प्रार्थना पत्र आमंत्रित किये जाते 
हैं। हमारी प्रक्रियानुसार उचित प्रार्थना पत्रों को स्वीकृत तथा अनुचित प्रार्थना पत्रों को अस्वीकृत किया जाता है। ऐसी समस्याएं जो की अधिक जटिल होती हैं उनका भी निस्तारण संभव हो सकता है। इसके अंतर्गत किसी भी प्रकार की शिकायत, सहायता, समस्या के निराकरण के लिए आवेदन किया जा सकता है।

यह आवेदन व्यक्ति, समूह, परिवार, संगठन, सरकार द्वारा किये जा सकते हैं। प्राप्त आवेदनों पर विचार किया जायेगा यदि आवेदन स्वीकृत किये जायेंगे तो उसे हल करने हेतु कार्यवाही की जाएगी/ सक्षम रणरीति तैयार की जाएगी, सलाह/ टिप्पणी दी जाएगी। आवेदन उचित ना होने पर उन्हें अस्वीकृत किया जा सकता है। 

2) कमांडो प्रशिक्षण (आत्म रक्षा कला) - यह आत्म रक्षा हेतु एक उच्च स्तर का प्रशिक्षण है। अवधि लड़कों हेतु सात माह तथा लड़कियों हेतु नौ माह है। यह एक कठिन लेकिन श्रेष्ठ गुणवत्ता युक्त ​​​​​​​प्रशिक्षण है। 

न्यूज़ / रिपोर्ट

नेशनल डिफेंस ट्रस्ट का गठन 2 फरवरी 2017 को राष्ट्र की रक्षा, सेवा एवं मजबूती के उद्देश्य से वैधानिक तरीके से किया गया। इसका रजिस्ट्रेशन नंबर 22 वर्ष 2017 तथा किताब संख्या 4 है। 

फरवरी 2017 में नेशनल डिफेंस ट्रस्ट की दो सदस्यीय टीम ने भुतहा एवं श्रापित माने जाने वाले राजस्थान के भानगढ़  में दिन और पूरी रात रुक कर इस बिंदु पर शोध किया कि क्या वाकई यह क्षेत्र अभिशप्त और भुतहा है या नहीं। 

गंगा नदी के निर्मलीकरण हेतु सुझाव- 
वर्तमान समय में गंगा नदी का अस्तित्व खतरे में है, यह स्थिति कई वर्षों से है और निरंतर बिगड़ रही ही रही है। नदी सूख रही है, उसे दूषित किया जा रहा है। स्थिति यह है कि नदी में रहने वाले जलीय जीवों और वनस्पतियों पर भी संकट मंडरा रहा है। मछलियाँ ऐसी विपरीत और खतरनाक परिस्थितियों में किसी प्रकार जी रही हैं और नदी के पर्यावरण को स्वच्छ करने में अपनी अमूल्य भूमिका निभा रही हैं।  यह बुरी स्थिति मनुष्य ने पैदा की है। लेकिन मनुष्य इतने मात्र से संतुष्ट नहीं है। वो जल/ नदी के पर्यावरण की रक्षा करने वाली जल की रानी मछली को अत्यधिक बड़े पैमाने पर मार- मार कर खत्म कर रहा है और यही काम मनुष्य अन्य जलीव जीवों के साथ भी कर रहा है। 
स्मरण रहे बगैर त्याग और बलिदान के लक्ष्य हासिल नहीं होगा। एक बात और वह यह की गंगा नदी का निर्मलीकरण मनुष्य के बस की बात नहीं है लेकिन इसमें मनुष्य की भूमिका अवश्य आवश्यक है। मनुष्य की भूमिका यह होनी चाहिए कि वह वह नदी के साथ की जाने वाली अपनी बद्द्तमीजियों को बंद  कर दे। नदी की रक्षा यदि कोई कर सकता है तो वह हैं सघन वन, वन्य जीव, परिंदे, जलीय जीव और भारत का मुकुट हिमालय। 
नदी के सामानांतर कम से कम 5 किलोमीटर चौड़ाई/ गहराई में सघन वन लगाने होंगे जहाँ मनुष्य की स्वच्छंद आवाजाही पर प्रतिबन्ध हो, और जो वन क्षेत्र पहले से मौजूद हैं उनकी रक्षा की जाए और उनके दायरे बीस प्रतिशत तक बढ़ा दिए जाएं। समस्या- अवैध निर्माण, अनधिकृत बस्तियां, शहरीकरण आदि बाधा बनेंगे, लेकिन स्मरण रहे- बगैर त्याग, बलिदान के लक्ष्य हासिल नहीं होगा। 
मनुष्य यदि ये सोचता है कि अपने गंदे नालों का पानी फ़िल्टर करके नदी में गिरा देंगे तो उसे ऐसा नहीं करना चाहिए। नदियों की तरफ खुलने वाले मनुष्यों के सभी नालों को काट देना चाहिए आदि। 

 

नेशनल डिफेंस ट्रस्ट द्वारा प्रत्येक जिले में जिला शाखा नियुक्त की जानी हैं जो नेशनल डिफेंस ट्रस्ट के नियमानुसार कार्य कर सकें अतः ऐसे व्यक्ति जो शाखा लेना चाहते हैं संपर्क कर सकते हैं। संपर्क- 9695869597

आवश्यकता है- विशेष अधिकारी पद हेतु युवक/ युवतियों की उम्र- 18 से 23 वर्ष, शिक्षा- इण्टर से स्नातक, प्रशिक्षणोपरांत वेतन- रु. 1000/- से रु. 30,000/- प्रशिक्षण अवधि 3 माह 15 दिन, प्रशिक्षण शुल्क- निशुल्क। संपर्क- 9695869597

आत्म रक्षा/ रोड फाईट के लिए कमांडो प्रशिक्षण में प्रवेश दिनांक 22 फरवरी से प्रारम्भ हो गया है। यह एक उच्च गुणवत्ता का आत्म रक्षा/ रोड फाईट का कोर्स है जिसकी प्रशिक्षण अवधि न्यूनतम सात माह तथा अधिकतम नौ माह है। स्थान सीमित है तथा प्रशिक्षण में प्रवेश हेतु न्यूनतम आयु 18 वर्ष तथा अधिकतम आयु 30 वर्ष है। इस प्रशिक्षण में लड़के एवं लड़कियां दोनों ही प्रवेश ले सकते हैं।   

फोटो

B- 1

B- 2

B- 3

B- 4

ज्योतिष एवं अध्यात्म प्रभाग

सामाजिक जागरूकता प्रभाग

सहायता एवं शिकायत प्रभाग

ज्योतिष प्रभाग

कृषक उत्थान प्रभाग

वन एवं वन्य जीव सुरक्षा प्रभाग

प्राकृतिक सम्पदा रक्षा प्रभाग

आपदा प्रबंधन प्रभाग

मादक पदार्थ नियंत्रण प्रभाग

पर्यावरण सुरक्षा प्रभाग

रोजगार मागदर्शन प्रभाग

गुप्तचर प्रभाग

महिला एवं बाल सुरक्षा प्रभाग

पशु कल्याण प्रभाग

नकली वस्तु रोधी प्रभाग

आपराधिक सूचना एवं समाचार प्रभाग

सतर्कता प्रभाग

अपराध निरोधक प्रभाग

सदस्यता प्रभाग

अपराध जांच एवं शोध प्रभाग

राष्ट्रीय सुरक्षा एवं खुफिया प्रभाग

शिक्षा एवं प्रशिक्षण प्रभाग

आत्मरक्षा हेतु कमांडो प्रशिक्षण
शाखाऐं
/file/event/eb843_Untitled.png /file/event/5d394_Untitled.jpg /file/event/031ec_Place-Image-here3.jpg /file/event/59f70_Place-Image-here3.jpg /file/event/81336_Place-Image-here3.jpg